---Advertisement---

अमर शहीद बाबू जगदेव जी का संघर्ष शोषित समाज के हक़ और हिस्सेदारी के लिये था – सुषमा मौर्य

By Md.shamim Ansari

Published on:

---Advertisement---

दुद्धी, सोनभद्र। राबर्ट्सगंज के रामलीला मैदान में महात्मा फुले फाउंडेशन (अराजनैतिक) द्वारा अमर शहीद बाबू जगदेव प्रसाद जी का शहादत दिवस और पेरियार रामास्वामी नायकर साहब की जन्म जयन्ती सुमन्त सिंह मौर्य की अध्यक्षता में जिले भर से आये हुए हजारों समर्थकों द्वारा मनाई गयी।
कार्यक्रम का शुभारंभ सर्वप्रथम महापुरुषों के चित्र पर मुख्य अतिथि जन अधिकार पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव श्रीमती सुषमा मौर्य द्वारा माल्यार्पण कर किया गया, ततपश्चात सभा को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि श्रीमती सुषमा मौर्य ने कहा कि बाबू जगदेव की व्यक्तित्व और कृतित्व बहुत ही अनुकरणीय व क्रांतिकारी रहा है, उन्होंने कहा था कि “शिक्षा, कुश्ती लाठी भैंस पालना और हो राजनीति का छन्द, जिनके पास न हो ये चारों उनका कर दो हुक्का पानी बन्द।” अर्थात बाबू जगदेव जी ने शोषित समाज के लोगो से कहा कि अच्छी शिक्षा ग्रहण करो, शरीर स्वस्थ और मजबूत बनाओ, आय का जरिया बनाओ और राजनीति से खूब मतलब रखो और जिसके पास ये सब गुण नही है उनको समझाओ, ठीक करो तभी समाज बदलेगा, तभी हमारी तक़दीर बदलेगी। बाबू जगदेव जी ने कहा था कि राजनीति ही मास्टर चाभी होती है, इससे विकास के बंद सारे ताले खोले जा सकते है इसलिये इसे प्राप्त करने के लिए आगे आये। आज देश मे महंगाई व मुनाफाखोरी से पूरी जनता त्रस्त है,बेरोजगारी से देश के युवा नौजवान परेशान है,देश का किसान, मजदूर, महिलाये परेशान है। परन्तु इनकी कोई सुध लेने वाला नही है। हमे अपनी समस्या के समाधान की लड़ाई लड़ने के लिए खुद आगे आना होगा।
बाबू जगदेव प्रसाद जी का कहना था कि जिस लङाई की बुनियाद डाल रहा हु इसमें पहली पीढ़ी मारी जाएगी दूसरी पीढ़ी जेल जाएगी और तीसरी पीढ़ी राज करेगी जीत अन्तोगत्वा हमारी होकर रहेगी, वर्तमान परिवेश में उत्तर प्रदेश में जो नेता व पार्टी जिसकी जितनी संख्या भारी उसकी उतनी हिस्सेदारी , गरीब हो यो हो धनवान सबको शिक्षा एक समान , एवं जाती जनगणना की बात करती हो उस नेता के साथ खड़ा होने की जरूरत है जिससे शोषितों का शोषण बंद हो व हिस्सा उन्हें प्राप्त हो सके । आज पेरियार ई वी रामासामी नायकर साहब की जयंती के अवसर पर नमन करते है इनके संघर्ष से हमें अंधविश्वास पाखण्ड से बाहर निकलने की प्रेरणा मिलती है।
इस पर अवसर विशिष्ट अतिथि डॉ0 लोकपति सिंह पटेल एव पूर्व जिला पंचायत सदस्य रेनू कुशवाहा ने कहा कि महापुरुषों के जीवन संघर्ष को याद करने से नही बल्कि उनके संघर्षों को अपने जीवन मे अपनाने से लाभ मिलेगा जिससे हमारी बिगङी बन सकती है ।
जिला पंचायत सदस्य मालती देवी एव उषा भारती ने कहा कि बाबू जगदेव प्रसाद जी ने समाज को दो वर्गों में बटकर आंदोलन की सुरुआवत किया जिसमें एक शोषक दूसरा शोषित , शोषक बनाम शोषित के आंदोलन से तत्कालीन प्रधानमंत्री की सत्ता हिलने लगी जिससे एक आंदोलन के दौरान 5 सितम्बर 1974 को बाबू जगदेव प्रसाद जी की हत्या कर दी गयी, हमे बाबू जगदेव जी के शहादत को बेकार नही जाने देना है ।
कार्यक्रम आयोजक डॉ0 भागीरथी सिंह मौर्य एव सयोंजक आदित्य मौर्य ने कार्यक्रम में आए हुए लोगो के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किये ।
कार्यक्रम को समाजवादी पार्टी के जिलाउपाध्यक्ष, जिला पंचायत सदस्य मालती देवी, मंगला प्रसाद मौर्य, सत्यनारायण गौण, रानी सिंह , एड प्रभु सिंह, सन्तोष कुमार पटेल, ड़ा संजय कुमार ने भी सम्बोधित किया वही कार्यक्रम में बिनोद कुमार, श्रीपति विश्वकर्मा, चन्द्रशेखर आजाद, रामनरायन प्रजापति , आशीष मौर्य, सुनील कुमार, नवीन प्रधान, सुरेंद्र मौर्य प्रधान, विजय प्रधान, रामाशीष प्रधान, बलिराम प्रधान, चन्द्रमा सिंह मौर्य, गिरजा प्रसाद, उदय लाल, जशवंत सिंह , रितेश गुप्ता, एड रामबृक्ष भारती, लक्ष्मण सिंह, रीमा मौर्य, इंदु मौर्य सहित हजारों लोग कार्यक्रम में मौजूद रहे ।

Md.shamim Ansari

मु शमीम अंसारी कृषि स्नातकोत्तर (प्रसार शिक्षा/जर्नलिज्म) इलाहाबाद विश्वविद्यालय (उ.प्र.)

---Advertisement---
Follow On WhatsApp
Follow On Telegram
BREAKING NEWS
सोनभद्र में आनलाइन अटेंडेंस के विरोध में शिक्षकों का प्रदर्शन जमकर किया नारेबाजी, 150 संकुल शिक्षकों... दुद्धी निवासी युवक से धोखाधड़ी करके 3.5 लाख ठगी करने के आरोपी को धीरेंद्र चौधरी,जितेंद्र कुमार ने किय... बिजली के पोल से टकराने से बाईक सवार एक की मौत दुसरा गंभीर रूप से घायल मुहर्रम की सप्तमी को कर्बला पर उमड़ा अकीदतमंदों का हुजूम सड़क पर मौत बनकर दौड़ रही राख की हाइवा पुलिस बनी मूकदर्शक तीन दिनो से बिजली आपूर्ति ध्वस्त गाँवों में 18 घण्टा आपूर्ति बना मजाक दो वारंटी गिरफ्तार पुलिस ने सम्बन्धित न्यायालय भेजा श्रीमद् भागवत कथाके सत्यम अध्याय मे श्री कृष्ण सुदामा चरित्र के साथ कथा का विश्राम किया गया तस्करों ने जंगल से काटे 8 सेमर के वृक्ष गड़ईडीह में बने एमआरएफ सेंटर के बाहर गिला और सूखा कूड़ा कचरा फेंका जा रहा है
Download App