---Advertisement---

हरितालिका तीज पर पति की लंबी उम्र के लिए महिलाओं ने रखा निर्जला व्रत

By Vikash Agrahari

Published on:

---Advertisement---

चोपन/सोनभद्र (गुड्डू मिश्रा )

खंड सौभाग्य का प्रतीक हरितालिका तीज व्रत सोमवार को श्रद्धा के साथ मनाया गया। महिलाओं ने अखंड सौभाग्य और पति की लंबी आयु के लिए भगवान शिव व माता पार्वती की पूजा अर्चना की। 24 घंटे का निर्जला उपवास किया। मंदिरों में दर्शन पूजन के लिए महिलाओं की भीड़ उमड़ी। सोलह शृंगार से सजधज कर महिलाओं ने पूजा अर्चना की और पुरोहित से कथा सुनी। इसके बाद देर रात तक व्रती महिलाओं ने भजन-कीर्तन किया। हरतालिका तीज भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हस्त नक्षत्र में मनाया जाता है। हिंदू मान्यता में तीज का बड़ा महत्व माना गया है। सुहागिन महिलाओं ने पति की लंबी आयु के लिए निर्जला व्रत रखा। सोमवार को व्रती महिलाओं ने घर और मंदिरों में तीज व्रत की कथा सुनी और पूजा अर्चना की। गौरी-शंकर की मिट्टी की प्रतिमा बनाकर पूजा की गई। मां पार्वती को सुहाग का सामान भी अर्पित किया गया। इसके अलावा रात में भजन-कीर्तन भी हुआ। हरितालिका तीज के दिन हरे रंग का विशेष महत्व होता है। इस दिन महिलाएं हरी चूड़ियां और हरी साड़ी पहनती हैं। मंगलवार को सूर्योदय के बाद व्रत रखने वाली महिलाएं व्रत खोलेंगी। नगर में स्थित गौरी शंकर मंदिर,कैलाश मंदिर ,काली मंदिर समेत अन्य मंदिरों में शाम में महिलाओं ने पूजा अर्चना की।

Vikash Agrahari

विकास अग्रहरी सोनभद्र म्योरपुर निवासी है। कम समय मे विकास अग्रहरी आज जिले की पत्रकारिता मे एक जाना पहचाना नाम है।

---Advertisement---
Follow On WhatsApp
Follow On Telegram
BREAKING NEWS
सोनभद्र में आनलाइन अटेंडेंस के विरोध में शिक्षकों का प्रदर्शन जमकर किया नारेबाजी, 150 संकुल शिक्षकों... दुद्धी निवासी युवक से धोखाधड़ी करके 3.5 लाख ठगी करने के आरोपी को धीरेंद्र चौधरी,जितेंद्र कुमार ने किय... बिजली के पोल से टकराने से बाईक सवार एक की मौत दुसरा गंभीर रूप से घायल मुहर्रम की सप्तमी को कर्बला पर उमड़ा अकीदतमंदों का हुजूम सड़क पर मौत बनकर दौड़ रही राख की हाइवा पुलिस बनी मूकदर्शक तीन दिनो से बिजली आपूर्ति ध्वस्त गाँवों में 18 घण्टा आपूर्ति बना मजाक दो वारंटी गिरफ्तार पुलिस ने सम्बन्धित न्यायालय भेजा श्रीमद् भागवत कथाके सत्यम अध्याय मे श्री कृष्ण सुदामा चरित्र के साथ कथा का विश्राम किया गया तस्करों ने जंगल से काटे 8 सेमर के वृक्ष गड़ईडीह में बने एमआरएफ सेंटर के बाहर गिला और सूखा कूड़ा कचरा फेंका जा रहा है
Download App