सोनभद्र

विकास के साथ आज संस्कार नीति अति आवश्यक __पद्म श्री पोपट राव

स्वावलंबी गांव में ग्राम स्वराज्य मुख्य बिंदु, पंचायतों को होना होगा स्वावलंबी

बनवासी सेवा आश्रम में ग्राम स्वराज्य सम्मेलन का पहला दिन

म्योरपुर/सोनभद्र(विकास अग्रहरि)

म्योरपुर ब्लॉक के गोविंदपुर स्थित बनवासी सेवा आश्रम के बिचित्रा महाकक्ष में बुधवार को दो दिवसीय ग्राम स्वराज्य सम्मेलन का आयोजन साहित्यकार और आश्रम के अध्यक्ष अजय शेखर के अध्यक्षता में आयोजित की गई। दीप प्रज्वलित कर महाराष्ट्र से आए हिवरे बाजार के सरपंच पद्म श्री पोपट राव पवार ने अपने संबोधन में कहा कि किसानों की आय दो गुनी ही नही पांच गुना बढ़ सकती है यह काम हमने अपने पंचायत में कर के दिखाया है।लेकिन विकास नीति के साथ आज संस्कार नीति की बहुत आवश्यकता है जिस पर परिवार समाज और सरकारों को काम करने की जरूरत है ।कहा कि आज केवल विकास की बाते हो रही है लेकिन केवल आर्थिक विकास से सभ्य समाज नही बन सकता उन्होंने पंजाब का उदाहरण देते हुए कहा कि आज वहा शराब पीने वाले और जमीनों की स्थिति क्या हो गई है।श्री पोपट ने कहा कि ग्राम पंचायतें सवावलंबी होंगी तभी ग्राम स्वराज्य आएगा।आज ग्राम स्वराज्य की जरूरत है।आत्म निर्भर गांव बने इसके लिए स्थानीय संसाधनों को आधार बनाना होगा।और यह गांधी विचार से ही संभव है।सर्वोदय मंडल के प्रदेश अध्यक्ष राम धीरज ने कहा कि गांव ने सबसे ज्यादा रोजगार है इसे समझने और पहल करने की जरूरत है।कहा कि दुनिया में किसान का उधोग ही ऐसा है जहा एक बीज डालने पर सौ बीज का उत्पादन होता है जबकि उधोगों में हजार वस्तु डाले तो चौथाई हिस्सा पैदा होता है।कहा की कृषि और जड़ी बूटी का सही प्रसंस्कार कर आय बढ़ाया जा सकता है।राम जन्म यादव ने छोटे छोटे प्रयास को प्राथमिकता देते हुए सभी को शिक्षित और स्वावलंबी होने की बात कही। गांधी विचारक अरविंद अंजुम ने कहा कि समाज में चेतना लाना जरूरी है समाज आत्मनिर्भर बने यह समाज सोचे।आजादी मिली जब समाज चाहा।अन्यथा बहुत से लोगो को गुलामी और आजादी दोनो का पता ही नही चला।गुलामी क्यों आई यह चिंतन का विषय है।उन्होंने कहा कि एजेंट के माध्यम से सामाजिक बदलाव संभव नहीं होगा।हमारी जरूरतों की पूर्ति दूसरा करे इस सोच में बदलाव की जरूरत है।उन्होंने कहा की महिलाओ को कारवां चौथ और सदा सुहागन वाले आशीर्वाद जैसे परंपराओं पर सोचना होगा। कहा कि स्त्री उम्र में छोटी हो और पहले मर जाए यह सोच डाली गई है ।ग्राम पंचायतों के सशक्त बनाने पर डा चंद्र शेखर प्राण के नेतृत्व में समूह चर्चा का आयोजन दूसरे सत्र में किया गया शुभा प्रेम ने सम्मेलन में आए लोगो का स्वागत करते हुए कहा कि ग्राम स्वराज्य की मजबूती के लिए पंचायत को शसक्त होना होगा ।मौके पर जितेंद्र नंदू,सतेंद्र सिंह,श्री मोहन शुक्ल,रामेश्वर प्रसाद,बर्फी लाल,मंजू देवी,सरिता देवी,नीलम सिंह,वीरेंद्र राय,उमेश चौबे,रमेश,,रोहतास रघुवंशी, कन्हैया ,ओंकार पांडेय, समेत प्रदेश के विभिन्न जिलों के अलावा बंगाल,बिहार,उड़ीसा,एम पी आदि राज्यों के सामाजिक कार्यकर्ता उपस्थित रहे ।संचालन शिव सरन सिंह ।ने किया।

Vikash Agrahari

विकास अग्रहरी सोनभद्र म्योरपुर निवासी है। कम समय मे विकास अग्रहरी आज जिले की पत्रकारिता मे एक जाना पहचाना नाम है।

Related Articles

Back to top button
BREAKING NEWS
अकीदत से मनाया गया शब-ए-बराअत का त्योहार म्योरपुर खेल मैदान मे बैठक हुआ तबादला एक्सप्रेस पटरी पर दर्जनो इंस्पेक्टर दरोगा हुये इधर से उधर पति के निर्मम पिटाई के बाद ट्रामासेंटर में पत्नी की एक दिन बाद मौत बुड़ा ने बीजपुर बाजार को हराकर एक दिवसीय क्रिकेट प्रतियोगिता का खिताब अपने नाम किया रैदास जी की समता की संकल्पना आधुनिक भारत के संविधान की संकल्पना और न्याय की चाह है 65वां फुटबाल टूर्नामेंट 17 मार्च से, रमीज आलम को मिली जिम्मेदारी कंटेनर बाइक की टक्कर मे 3 घायल दुद्धी कोतवाली में दंगा नियंत्रण उपकरणों को चलाने का कराया गया अभ्यास शब ऐ बरात त्योहार के मद्देनजर अमित कुमार की अध्यक्षता मे शक्तिनगर मे पीस कमेटी का बैठक हुआ
Download App