सोनभद्र

पर्यावरण दिवस पर नदियों के अस्तित्व बचाने के लिए प्रदूषण प्रेमियों ने किया अनशन

पर्यावरण हितों के विभिन्न 5 सूत्रीय मांगों को लेकर डीएम के नाम संबोधित ज्ञापन तहसीलदार को सौंपा

विश्व पर्यावरण दिवस पर सोमवार को कोरगी कनहर नदी किनारे महुआ पेड़ के नीचे सिंगरौली प्रदूषण मुक्ति वाहिनी के बैनर तले समिति संयोजक रामेश्वर प्रसाद के नेतृत्व में पर्यावरण कार्यकर्ताओं ने कनहर नदी की अस्तित्व बचाने व नदी में अवैध खनन रोकने तथा इस अवैध खनन में शामिल लोंगो की एसआईटी जांच कराने की मांग को लेकर एक दिवसीय शांतिपूर्ण अनशन किया ।अनशन पर बैठे जगत नारायण विश्वकर्मा वार एशोसियेशन के सचिव दिनेश कुमार गुप्ता ने कहा कि आदिवासी दिवस पर सोनभद्र आए मुख्यमंत्री ने सोनभद्र में खनन माफियाओं पर कार्यवाही के साथ ग्रामीणों को आगे आने के लिए आह्वान किया था।ग्रामीण अवैध खनन को लेकर आवाज उठा रहे तो उनकी सुनी नही जा रही है।अब इसके लिए लखनऊ ने कार्यक्रम किया जाएगा और समस्या से मुख्यमंत्री को अवगत कराया जाएगा।
इस दौरान पर्यावरण हितों में 5 सूत्रीय मांगों को लेकर डीएम को संबोधित ज्ञापन दुद्धी तहसीलदार ब्रजेश कुमार वर्मा को सौंपा। तहसीलदार ने उनकी मांगों का ज्ञापन मूल रूप से डीएम तक पहुँचाये जाने का आश्वासन दिया|
इस अवसर पर पर्यावरण प्रेमियों ने सोनभद्र की नदियों में लीज की आड़ में उससे हट कर खनन और खनन नियमावली को दर किनार कर गहराई तक खनन से नदी को लेकर चिंता जताई |इसको लेकर एसएआईटी का गठन कर जांच की मांग उठाई| साथ हीकहा कि प्रदूषण की समस्या विचलित करने वाला हो गया है 28 अगस्त 2018 को एनजीटी के आदेश में प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए कई निर्देश भी दिए गए,उसमें प्रदूषण प्रभावित क्षेत्रों में प्रदूषण की जांच के लिए टॉक्सिलोजिकल लैब निर्माण कराये जाने का आदेश है ,लेकिन अभी तक इसका निर्माण भी नहीं कराया गया| दिए ज्ञापन में सिंगरौली प्रदूषण मुक्ति वाहिनी ने कनहर ,ठेमा ,पांगन सहित सभी नदियों में हो रहे अवैध खनन पर रोक लगाए जाने की मांग की कहा कनहर नदी में जो भी लीज है उसका सीमांकन कर पिलर लगाया जाए और नियमनुसार खनन कराया जाए ,उससे ज्यादा गहराई में खनन ना हो इसकी निगरानी कराई जाए ,अवैध खनन में लिप्त लोगों के खिलाफ एसआईटी जांच कराई जाए और दोषी लोंगो पर कार्यवाही की जाए ,एनजीटी के आदेश का पालन कराते हुए टॉक्सिलोजिकल लैब की स्थापना की जाए । साथ ही सरकार के निर्देश पर वन विभाग द्वारा जो प्रति वर्ष करोड़ो पौधे जो कागजो पर लगाये जाते है इसकी मौके की जांच कराई जाए| इस मौके पर सिंगरौली प्रदूषण मुक्ति वाहिनी के संयोजक रामेश्वर प्रसाद ,क्षेत्रिय संयोजक दिनेश जायसवाल , जगत विश्वकर्मा , रमेश यादव ,कमला ,माया सिंह ,दुद्धी बार के सचिव दिनेश गुप्ता ,पूर्व सिविल बार अध्यक्ष प्रभु सिंह ,प्रेमचंद यादव ,उदय लाल मौर्या , ग्राम प्रधान फुलवार दिनेश यादव ,महुली प्रधान अरविंद जायसवाल ,बीडीसी संघ अध्यक्ष पीसी गुप्ता ,दसई यादव ,गंभीरा ,रामरक्षा ,मोतीलाल , डूमरा प्रधान रामनाथ के साथ काफी संख्या में पर्यावरण प्रेमी मौजूद रहे।सुरक्षा की दृष्टि से सीओ दद्दन प्रसाद गोंड ,प्रभारी निरीक्षक सुभाष राय ,विंढमगंज एसओ अरविंद गुप्ता मय पुलिस फोर्स और एक प्लाटून पीएसी के जवान मौजूद रहे|

फोटो

Vikash Agrahari

विकास अग्रहरी सोनभद्र म्योरपुर निवासी है। कम समय मे विकास अग्रहरी आज जिले की पत्रकारिता मे एक जाना पहचाना नाम है।

Related Articles

Back to top button
BREAKING NEWS
रेणुकूट खाडपाथर के पास टैंकर स्कार्पियो की हुई टक्कर ओबरा निवासी 2 लोग घायल सोनभद्र में "एम्स" एवं केंद्रीय विश्वविद्यालय की उठी मांग पूर्व ब्लाक प्रमुख के पुत्र के निधन पर शोक आदिकालीन संस्कृति है सोनभद्र की पहचान: दीपक कुमार केसरवानी पैसेंजर ट्रेन के धक्के से युवक की मौत पिपरी मडैया के पास अल्टो पे राख लदा ट्रक पलटा सिंगरौली निवासी 4 लोगो की दबने की आशंका पुलिस रेस्क्यू... हाईवा के चपेट मे आने से युवक की गंभीर रूप से ज़ख्मी, इलाज के दौरान मौत लोकसभा चुनाव को लेकर भाजपाईयों ने किया बैठक लाभार्थी संपर्क अभियान सहित अन्य कार्यक्रमों को लेकर बनी... भाजपा जिलाध्यक्ष ने विकसित भारत संकल्प पत्र को किया लांच युवा जन कल्याण सेवा संस्थान की ओर से बच्चों के लिए चित्रकला प्रतियोगिता का हुआ आयोजन
Download App