प्रदेशसिंगरौलीसोनभद्र

युद्ध कलाओं के प्रदर्शन व मां काली, मां दुर्गा एवं श्रीरामलला के प्रतिमाओं के साथ निकली शोभा यात्रा

दुद्धी, सोनभद्र– रामनवमी पर्व के अवसर पर रविवार को दोपहर बाद तहसील मुख्यालय के हर गली, हर मोड़ व सड़कों पर आस्था का जनसैलाब उमड़ पड़ा। युद्ध कलाओं के प्रदर्शन व मां काली,मां दुर्गा एवं श्रीरामलला के प्रतिमाओं के साथ निकली शोभा यात्रा के दौरान यहां के आवो हवा में जय बजरंगी-जय हनुमान व हरि बोल के गगनभेदी नारेे गूंजते रहे।

जय बजरंग केंद्रीय अखाड़ा समिति के तत्वाधान में तहसील मुख्यालय के रामनगर, वार्ड नंबर दो कलकली बहरा, पंचदेव मंदिर, मल्देवा, धनौरा, खजुरी, जाबर, डुमरडीहा, टेढ़ा, निमियाडीह, अमवार, दिघुल, पिपराही, रजखड़, बीडर, दुम्हान, महुली आदि गांवों से करीब चालीस से अधिक अखाड़ों के हजारों कलाबाज विशाल बजरंगी झंडे के साथ दुद्धी के रामलीला मैदान में एकत्र हुए। यहां से हिंदू आस्था का जनसैलाब जेबीएस की अगुवाई में लाठी, डंडा, भाला, तलवार समेत अन्य प्राचीन युद्ध के अस्त्र शस्त्रों के साथ जब सड़क पर उतरा तो लोग इस नजारे को देखने के लिए शोभा यात्रा मार्ग के दोनों ओर भारी संख्या में लोग खड़े होकर इसमें शामिल लोगो का अभिनन्दन करते नजर आये।शोभायात्रा में सबसे पहले बाइक सवार युवा शक्ति के लोग हाथों में तलवार लिए आगे चल रहे थे। उसके पीछे दुर्गावाहिनी का रेला चल रहा था|

ानी लक्ष्मी बाई समेत अन्य वीरांगना का रूप धरी स्कूटी सवार दुर्गा वाहिनी की करीब पांच दर्जन से अधिक किशोरियां लोगों के आकर्षण के केंद्र बिंदु में रही| जेबीएस की सचल नियंत्रक यान पर सवार नियंत्रक ध्वनी विस्तारक यंत्र के माध्यम से लोगों को नियंत्रित करते हुए समूचे तहसील मुख्यालय पर आस्था के संगम में चार चाँद लगा रहे थे| बजरंगी झंडे के साथ विभिन्न अखाड़ों के लोगो के साथ भव्य रथ पर सवार मां काली, मां दुर्गा व पुरुषोत्तम भगवान श्री रामचंद्र जी की प्रतिमाएं चल रही थी। वहीं नगर के पंचदेव दुर्गा पूजा समिति, विकास क्लब दुर्गा पूजा समिति,मां काली दुर्गा पूजा समिति समेत अन्य धार्मिक संस्थाओं के लोग शोभा यात्रा में शामिल लोगों पर पुष्प वर्षा करने की जिम्मेदारी निभा रहे थे।

कस्बे के विभिन्न सड़को से होते हुए पत्ता गोदाम तक गई।वापस लोगों का हुजूम मुख्य समारोह स्थल श्री संकट मोचन मंदिर चौक पहुंचा और अखाड़ा का रूप लेकर युध्द कलाओं के प्रदर्शन में जुट गया।यहां क्षेत्र के विभिन्न अखाड़ों से आये सैकड़ो कलाकारों ने अदभुत युध्द कलाओं का प्रदर्शन कर सबको प्रभावित किया। जुलूस का नेतृत्व जेबीएस अध्यक्ष कन्हैया लाल अग्रहरि एवं उनकी पूरी टीम करती रही।

इस मौके पर रामलोचन तिवारी, इन्द्रसेन भारत, दिनेश अग्रहरि, चेयरमैन राजकुमार अग्रहरि, राकेश श्रीवास्तव, रवींद्र जायसवाल, मनोज मिश्रा, दिलीप पांडेय, संजू तिवारी, रामपाल जौहरी, सुरेंद्र अग्रहरि, सुरेंद्र गुप्ता, आलोक अग्रहरि, सुनील जायसवाल, डॉ विनय, प्रदीप कुमार, कमल कानू आलोक जायसवाल, पंकज जायसवाल, चेतन श्रीवास्तव, संदीप गुप्ता, दीपक शाह, चेतन श्रीवास्तव, पीयूष अग्रहरि, चंदन समेत सैकड़ो गणमान्य कार्यक्रम में लगे रहे।

सुरक्षा के रहे कड़े प्रबंध

दुद्धी- ऐतिहासिक रामनवमी जुलूस के मद्देनजर पूरे नगर में सुरक्षा के कड़े प्रबंध रहे। एएसपी, एसडीएम प्रमोद कुमार तिवारी,सीओ आशीष मिश्रा, कोतवाल राघवेंद्र सिंह भारी पुलिस व पीएसी फोर्स के साथ डटे रहे।

Md.shamim Ansari

मु शमीम अंसारी कृषि स्नातकोत्तर (प्रसार शिक्षा/जर्नलिज्म) इलाहाबाद विश्वविद्यालय (उ.प्र.)

Related Articles

Back to top button
BREAKING NEWS
श्रीराम कथा के अंतिम दिन रावण बध लँका पर विजय अयोध्या वापसी के बाद जश्न में डूबे श्रोता डीजे के साथ शांतिपूर्ण माहौल में विसर्जित हुई मां दुर्गा की प्रतिमाएं बकरिहवाँ में अधर्म पर धर्म की विजय राम ने किया रावण वध अधर्म पर धर्म की विजय राम ने किया रावण का वध घर की बढेर से लटकता मिला वृद्धा का शव बलिया शहर कोतवाल प्रवीण सिंह भारी बरसात में भीगते हुये वर्दी का फर्ज निभा श्रद्धालुओं की मदद करते नज... नौ कन्या पूजन, हवन पूर्णाहुति के साथ नवरात्रि अनुष्ठान हुआ सम्पन्न चोरों ने दो खड़े ट्रैक्टर से गायब किये बैटरी पिपरी में भव्य गरबा कार्यक्रम की रही धूम आदि शक्ति सिद्धिदात्री की प्रतिमा की हुई प्राण प्रतिष्ठा