सोनभद्र

स्टेट की जमीन पर आबाद 120 परिवारों को मिला घरौनी का प्रमाण पत्र

क्षेत्रीय लेखपाल द्वारा 120 परिवारो को दिया गयाघरौनी प्रमाण पत्र

म्योरपुर/सोनभद्र(विकास अग्रहरि)

म्योरपुर विकास खण्ड के स्थानीय कस्बा में शनिवार दोपहर 1 बजे क्षेत्रीय लेखपाल अनिल कुमार मौर्या द्वारा 120 परिवार के मुखिया को सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान पर बुला उन्हें घरौनी प्रमाण पत्र दिया गया क्षेत्रीय लेखपाल श्री मौर्या ने बताया कि सरकार की मंशा है कि जो परिवार पच्चसो साल से स्टेट की जमीन व भवन राज्य सरकार की जमीन पर आबाद उन्हें उस जमीन का मालिकाना हक दिया जाए सरकार के मंशा के अनुरूप आज 120 परिवार के मुखिया घरौनी प्रमाण पत्र दिया गया है भवन राज्य सरकार की जमीन पर आबाद गौरीशंकर सिंह,पंकज सिंह,राज कुमार सिंह,बसन्त लाल पासवान ने बताया कि हम लोग आज पच्चसो वर्षो से उक्त जमीन पर आबाद थे किसी की सरकार ने हमे उक्त जमीन का मालिकाना हक देने के बारे में नही सोची लेकिन प्रदेश के मुख्य योगी जी ने इसे गम्भीरता से लेते हुए जमीन का मालिकाना हक देने के लिये कहा था और आज हमे घरौनी के रूप में जमीन का मालिकाना हक मिल रहा है इसके लिये हम सूबे के मुखिया के सदैव आभारी रहेंगे इन दौरान कोटेदार रविन्द्र कुमार,दीपक सिंह,काशी सिंह,रवि कांत,हरि सिंह,अर्जुन सिंह,श्याम लाल गुप्ता,खुर्सीदा बेगम,राजकुमार,उमा शंकर सिंह,दिवाकर सिंह सहित सैकड़ो की संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।

Vikash Agrahari

विकास अग्रहरी सोनभद्र म्योरपुर निवासी है। कम समय मे विकास अग्रहरी आज जिले की पत्रकारिता मे एक जाना पहचाना नाम है।

Related Articles

Back to top button
BREAKING NEWS
कनहर परियोजना निर्माण में हो रही देरी के लिए सरकार का लचर रवैया जिम्मेदार समाधान दिवस में आये 4 मामले, एक का हुआ निस्तारण नए कोर्ट की स्थापना सहित अन्य मांगो को लेकर दुद्धी बार एसोसिएशन का चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल राज्यमं... अधिवक्ताओं ने दुद्धी को जिला बनाने को लेकर भरी हुंकार बालू परिवहन में लिप्त दो टिपर सीज धर्म परिवर्तन की अफवाह को लेकर प्रशासन हलकान आये दिन टेलर से लग रहे जाम को लेकर प्रदीप सिंह चंदेल ने एनसीएल खड़िया,दुद्धीचुआ के अधिकारियो को दिया ... औद्योगिक कल कारखानों में युवाओं को रोजगार की विधान सभा में विधायक ने उठाई आवाज वीआईपी रोड के बाद चोपन रोड पर अवैध अतिक्रमण को लेकर पीडब्ल्यूडी व नगर पंचायत ने नपाई कर लगाया निशान नाले में फँसी गाय को बचाने फरिस्ता बन पहुँचे