सोनभद्र

धान खरीद नही होने को लेकर किसानों का विरोध दूसरे दिन भी रहा जारी

– दुद्धी तहसील में खड़ी है आधा दर्जन ट्रैक्टर

– ट्रैक्टर पर धान लेकर गुरुवार को पहुँचे थे तहसील परिसर

दुद्धी /सोनभद्र। क्रय केन्द्रों पर किसानों की धान खरीदारी नही होने से नाराज किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी रहा। करीब 6 -7 ट्रैक्टर पर धान लेकर आज शुक्रवार को दुद्धी तहसील पहुँच विरोध जताया। किसान जवाहिर लाल दुमहान, आशीष कुमार निवासी कादल, रामजी किसान दुमहान, कुँवर प्रताप सिंह, उपेन्द्र कुमार, गोपाल, मीना देवी सभी निवासी दुमहान, लालजीत कादल ने आरोप लगाया कि किसानों ने जब धान बेचने के लिए क्रय केंद्र दुद्धी कृषि मंडी पहुँचा तो धान खरीदने ने मना कर दिया गया। जबकि किसानों द्वारा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन व टोकन देकर सप्ताह दिनों से आज कल कर टालते रहे। जबकि किसान अपने घर से लेकर कृषि मंडी पहुँचा तो क्रय केंद्र संचालक द्वारा साफ साफ मना कर दिया गया। दुद्धी ब्लॉक के कादल गांव के किसान आशीष कुमार का कहना है कि क्रय केंद्र कृषि मंडी दुद्धी के क्षेत्रीय विपणन अधिकारी दीपक वशिष्ट ने लिखित रूप से दिया है कि 67 प्रतिशत कामन धान 33 प्रतिशत हाइब्रिड धान ही खरीदी जाएगी। किसानों ने कहा कि जब हाइब्रिड धान की बीज सरकारी बीज गोदाम से बेची गई तो खरीददारी क्यों नहीं ? किसानों का कहना है कि जब तक सरकार द्वारा धान खरीद नही की जाती हैं तब तक हम लोग ट्रैक्टर के साथ तहसील परिसर में ही रहेंगे।अब यहां से ही धान बेची जाएगी।

Md.shamim Ansari

मु शमीम अंसारी कृषि स्नातकोत्तर (प्रसार शिक्षा/जर्नलिज्म) इलाहाबाद विश्वविद्यालय (उ.प्र.)

Related Articles

Back to top button
BREAKING NEWS
कनहर परियोजना निर्माण में हो रही देरी के लिए सरकार का लचर रवैया जिम्मेदार समाधान दिवस में आये 4 मामले, एक का हुआ निस्तारण नए कोर्ट की स्थापना सहित अन्य मांगो को लेकर दुद्धी बार एसोसिएशन का चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल राज्यमं... अधिवक्ताओं ने दुद्धी को जिला बनाने को लेकर भरी हुंकार बालू परिवहन में लिप्त दो टिपर सीज धर्म परिवर्तन की अफवाह को लेकर प्रशासन हलकान आये दिन टेलर से लग रहे जाम को लेकर प्रदीप सिंह चंदेल ने एनसीएल खड़िया,दुद्धीचुआ के अधिकारियो को दिया ... औद्योगिक कल कारखानों में युवाओं को रोजगार की विधान सभा में विधायक ने उठाई आवाज वीआईपी रोड के बाद चोपन रोड पर अवैध अतिक्रमण को लेकर पीडब्ल्यूडी व नगर पंचायत ने नपाई कर लगाया निशान नाले में फँसी गाय को बचाने फरिस्ता बन पहुँचे