Close

सीता जी की खोज में वीर हनुमान समुद्र लांघ कर लंका पहुचे

चोपन/सोनभद्र (गुड्डू मिश्रा) रेलवे रामलीला मैदान में मंगलवार को रामलीला मंचन में सीता जी की खोज में वीर हनुमान समुद्र लांघ कर लंका पहुचे। लंकाधिपति रावण की स्वर्ण लंका को देखकर वे विस्मय में पड़ गए और सीता माता की खोज में अशोक वाटिका पहुंचे। जहां वृक्ष में बैठकर उन्होंने सीता जी के सामने चुपचाप ऊपर से राम की भेजी अंगूठी गिराई। राम की अंगूठी को सीता माता ने तुरंत पहचान लिया और यह बहुमूल्य अंगूठी लाने वाले हनुमान से सामने प्रकट होने को कहा। माता सीता का आदेश सुनकर हनुमान सीता माता के सामने प्रकट हुए और माता सीता के दर्शन कर भावुक हो गए। सीता माता से आज्ञा लेकर वीर हनुमान लंका के बागीचे में फल-खाने के लिए रवाना हो गए और लंका के बगीचे को तहस-नहस कर दिया। हनुमान के आतंक को देख जम्बुमाली और हनुमान जी के युद्ध मे जम्बुमाली हनुमान जी को घायल कर दिया जिससे हनुमान जी को बहुत क्रोध आया। तब परिक को पूरे वेग से घुमा कर अत्यंत उत्करसाली बलशाली हनुमान ने जम्बुमाली के विशाल छाती पर ऐसा प्रहार किया। जिससे जम्बुमाली का न मस्तक का पता लगा और न ही शरीर के किसी अंग का। परिक से मारा गया प्रहस्त पुत्र महाबली जम्बुमाली की मौत का समाचार सुनकर निसाचर रावण को बहुत क्रोध आया उसने सभी मंत्रियों के शक्तिशाली पुत्रों को बुला कर अक्षय कुमार दल को दल बल के साथ भेजा । हनुमान ने गदा से अक्षय कुमार मृत्यु को प्राप्त हुए । यह संदेश सुन रावण ने मेघनाथ को आदेश दिया कि बन्दर को कैद कर दरबार में पेश किया जाय। जहां रावण हनुमान संवाद हुआ। इस मौके पर रामलीला समिति के पदेन अध्यक्ष बीजेपी मंडल अध्यक्ष चोपन सुनील सिंह, चोपन थानाप्रभारी निरीक्षक के.के सिंह, उपाध्यक्ष सतनाम सिंह, मनोज सिंह सोलंकी, सुशील पांडे, मानवाधिकार आयोग के प्रदेश सचिव रोशन सिंह, लल्लू श्रीवास्तव, मोम बहादुर, अजित पंडा, महामंत्री- सुरेश जयसवाल एवं कोषाध्यक्ष अभिषेक दुबे। मंत्री- विनीत पांडे, उमेश बिंद, धर्मेंद्र जायसवाल, अजय कुमार, राम कुमार मोदनवाल, जितेंद्र जयसवाल, मीडिया प्रभारी- अनुज जयसवाल/अशोक मद्धेशिया, संरक्षण मंडल- संजय जैन, सत्यप्रकाश तिवारी, कैलाश मौर्या, कमल किशोर सिंह, सतेंद्र कुमार आर्य, प्रदीप अग्रवाल, राम आश्रय जायसवाल, दिनेश गर्ग, दीनानाथ सेठ, अशोक सिंघल, तीर्थराज शुक्ला, राजन जायसवाल, रोशन सिंह, रावण प्रभारी- सियाराम तिवारी, राजू चौरसिया, रिंकू अग्रहरि एवं अनिल जायसवाल। अमर शर्मा, शुभम चौरसिया और कलाकारों के इस भावपूर्ण मंचन को देखने के लिए नगर व आस-पास के क्षेत्रों से आये श्रद्धालु मौजूद रहे।कार्यक्रम का सफल संचालन कथा वाचक पंडित शितलेश शरण मिश्र ने अपनी मधुर वाणी से कर मंच को और सुंदर बना दिया।

BREAKING NEWS
वनाधिकार कानून के तहत जमीन पर अधिकार दे सरकार - आइपीएफ मिट्टी का ढूहा ढहा 2 की मौत शौचालय, आवास, बिजली उपलब्ध कराई तथा दवाई, सिंचाई व पढ़ाई मुफ्त- उपेंद्र तिवारी म्योरपुर विकासखंड अंतर्गत फसल प्रदर्शनी का किया गया आयोजन टीका और मुट्ठी भर अनाज का ढिंढोरा पीट गरीब का उपहास उड़ा रही बीजेपी सरकार-विजय सिंह गोंड नवनिर्वाचित प्रधानो का एक दिवसीय अनवासीय हुआ प्रशिक्षण अजीरेश्वर धाम मंदिर जरहा में 3 फरवरी को होगा सामूहिक विवाह रजिस्ट्रेशन के लिये करे सम्पर्क प्रधानमंत्री के महत्वपूर्ण योजना स्वच्छ व सुंदर गांव देश के तहत नवनिर्मित सामुदायिक शौचालय का हुआ शु... दुद्धी में बेहतर स्वास्थ्य सुविधा की हो व्यवस्था- आइपीएफ हिण्डाल्को में तीन दिवसीय सड़क सुरक्षा प्रशिक्षण शिविर का आयोजन
scroll to top