Close

केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री की हो बर्खास्तगी-आइपीएफ

प्रियंका गांधी की हो बिना शर्त रिहाई
लखीमपुर जाने से रोकना लोकतंत्र की हत्या

लखनऊ। लखीमपुर खीरी में किसानों पर हुए बर्बर हमले और हत्या के खिलाफ वहां जा रहे राजनीतिक दलों को रोकना और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को गिरफ्तार कर हिरासत में रखना लोकतंत्र की हत्या है। लोकतंत्र की इस हत्या के खिलाफ आइपीएफ पूरे प्रदेश में अभियान चलायेगा। इस आशय का राजनीतिक प्रस्ताव आइपीएफ की केन्द्रीय वर्किंग कमेटी द्वारा लिया गया। प्रस्ताव के बारे में प्रेस को आइपीएफ के राष्ट्रीय अध्यक्ष एस. आर. दारापुरी ने जानकारी देते हुए बताया कि जब गाड़ियों से किसानों को कुचलने का वीडियों सामने आ गया है तब भी केंद्रीय राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को मंत्री पद से बर्खास्त न करना और उसके पुत्र अभिषेक मिश्र की गिरफ्तारी न करना स्पष्ट रूप से दर्शाता है कि मोदी-योगी सरकार हत्यारों को संरक्षण दे रही है। आइपीएफ ने सरकार से किसानों की हत्या करने वाले केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी के पुत्र अभिषेक मिश्र की तत्काल गिरफ्तारी, अजय मिश्र को मंत्री को पद से हटाने और लखीमपुर में लोकतंत्र बहाल करने व प्रियंका गांधी को बिना शर्त रिहा करने और लखीमपुर में मृतक परिवारों से मिलने देने पर किसी भी प्रकार की रोक न लगाने की मांग की है।

मु. शमीम अंसारी कृषि स्नातकोत्तर (प्रसार शिक्षा/जर्नलिज्म) इलाहाबाद विश्वविद्यालय (उ.प्र.)

BREAKING NEWS
वनाधिकार कानून के तहत जमीन पर अधिकार दे सरकार - आइपीएफ मिट्टी का ढूहा ढहा 2 की मौत शौचालय, आवास, बिजली उपलब्ध कराई तथा दवाई, सिंचाई व पढ़ाई मुफ्त- उपेंद्र तिवारी म्योरपुर विकासखंड अंतर्गत फसल प्रदर्शनी का किया गया आयोजन टीका और मुट्ठी भर अनाज का ढिंढोरा पीट गरीब का उपहास उड़ा रही बीजेपी सरकार-विजय सिंह गोंड नवनिर्वाचित प्रधानो का एक दिवसीय अनवासीय हुआ प्रशिक्षण अजीरेश्वर धाम मंदिर जरहा में 3 फरवरी को होगा सामूहिक विवाह रजिस्ट्रेशन के लिये करे सम्पर्क प्रधानमंत्री के महत्वपूर्ण योजना स्वच्छ व सुंदर गांव देश के तहत नवनिर्मित सामुदायिक शौचालय का हुआ शु... दुद्धी में बेहतर स्वास्थ्य सुविधा की हो व्यवस्था- आइपीएफ हिण्डाल्को में तीन दिवसीय सड़क सुरक्षा प्रशिक्षण शिविर का आयोजन
scroll to top