सोनभद्र

महिला शिक्षक संघ ने बीएसए को सौंपा ज्ञापन

पीरियड लीव की मांग को लेकर महिला शिक्षक संघ ने को सौंपा ज्ञापन

सोनभद्र,(विकास द्विवेदी) बेसिक शिक्षा में सेवारत समस्त महिला शिक्षक व कर्मचारियों को माह में तीन दिन का पीरियड लीव/मासिक
धर्म देने हेतु शासनादेश जारी करने की मांग को लेकर उत्तर महिला शिक्षक संघ की जिलाध्यक्ष शीतल दहलान की अगुवाई में महिला शिक्षिकाओं ने शनिवार को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी हरिवंश कुमार से मिलकर ज्ञापन सौंपा। इस दौरान संघ ने नवागत बीएसए को बुके व स्मृति चिन्ह देकर स्वागत किया। बीएसए ने उनकी मांग को सुनने के पश्चात शासन में पत्राचार करने की बात कही।
अवगत कराया कि बेसिक शिक्षा विभाग में समस्त सेवारत महिला शिक्षक कर्मियों को माह में तीन दिन का पीरियड लीव, विशेष अवकाश के रूप में देना इसलिए आवश्यक है,
क्योंकि इस कठिन समय में महिलाओं की शारीरिक व मानसिक स्थिति अन्य सामान्य दिनों की तुलना में अलग और तकलीफ देय होती है, इस समय कमजोरी व पेट में दर्द बनी रहती है। डॉक्टर का परामर्श भी है महिलाओं को इन दिनों भाग दौड़ से बचना चाहिए अन्यथा यूट्रस से होने वाली गंभीर समस्या के कारण उनका स्वास्थ्य प्रभावित होगा, जिस का असर उनके गर्भ पर भी पड़ सकता
है। संविधान के अनुच्छेद 15 व 42 के अन्तर्गत राज्य महिलाओं व लड़कियों के कल्याण हेतु विशेष उपबन्ध कर सकती है, संविधान के इस प्राविधान के अन्तर्गत बिहार सरकार ने 30 वर्ष पहले (सन 1992) भी अपने राज्य की समस्त सेवारत महिला शिक्षक व कर्मियों को विशेष अवकाश के रूप में पीरियड लीव प्रदान की जा रही है, जो सराहनीय है (बिहार सरकार वित्त विभाग, उप्र सरकार द्वारा उप्र महलिओं व लड़कियों के लिए मिशन शक्ति व अन्य कल्याणकारी योजनाओं को प्राथमिकता के साथ चलाकर महिलाओं को सशक्त बनाया जा रहा है, जो सराहनीय व प्रशंसनीय है। महिलाओं की इस अनिवार्य व प्राकृतिक समस्या पर मानवीय दृष्टिकोण अपनाते हुए बिहार की भांति उप्र में भी समस्त महिला शिक्षक व कर्मचारियां को विशेष अवकाश के रूप में पीरियड लीव/मासिक धर्म अवकाश के रूप में प्रदान करने
हेतु शासनादेश जारी करने की मांग किया। इसके पश्चात जिलाधिकारी कार्यालय में भी ज्ञापन सौंपा। इस मौके पर मीडिया प्रभारी कोमल शाहू, अंजू जायसवाल, वर्षा वर्मा, साधना सारंग, सोनाली मजूमदार, गायत्री त्रिपाठी, कुंजलता त्रिपाठी, प्रीति यादव, प्रज्ञा तिवारी, परवीन बेगम, नीति शुक्ला, ज्योत्स्ना तिवारी, संवेदिता मिश्रा आदि मौजूद रहे।

Ram Ashish Yadav

राम आशीष यादव सोनभद्र विंडमगज निवासी है। कुछ कर गुजरने की ललक के कारण कम समय मे ही राम आशीष यादव आज जिले की पत्रकारिता मे एक जाना पहचाना नाम है।

Related Articles

Back to top button
BREAKING NEWS
जीएसटी टीम आने की सूचना से बाजार में सन्नाटा मुख्य अभियंता ने कनहर सिंचाई परियोजना के मुख्य बांध के राकफिल निर्माण का लिया जायजा नसबंदी शिविर में 49 महिलाओं का किया गया बंध्याकरण सर्वश्रेष्ठ कायकल्पित विद्यालयों के अध्यापक व प्रधानों को जिलाधिकारी ने किया सम्मानित नौकरी करने निकले रेलवे कर्मचारी हुआ गुम, भाई ने दी गुमसुदगी की प्रार्थना पत्र घटिया कार्य की वजह से छत गिरने की स्थिति,बच्चे कमरे के बाहर पढ़ने को मजबूर 6 अध्यक्ष, 4 महामंत्री व 2 कोषाध्यक्ष समेत 32 प्रत्याशियों ने किया नामांकन विराट रुद्र महायज्ञ की तैयारियां पूरी, श्री रामकथा से गुंजायमान होगा ओबरा नगर अटेवा ने मनाया शहीद दिवस, स्वo रामआशीष सिंह को किया याद राजकीय डिग्री कॉलेज संचालन को लेकर शिक्षा मंत्री को पत्र
Download App