Close

अखिलेश मिश्रा के सराहनीय पैरवी से तिहरे हत्याकांड के आरोपी नजीरुद्दीन को फांसी,मर्डर से पहले मां बेटी के साथ किया था बलात्कार

आजमगढ़ मुबारकपुर एसएचओ अखिलेश मिश्रा के सराहनीय पैरवी से तिहरे हत्याकांड के आरोपी नजीरुद्दीन को फांसी,मर्डर से पहले मां बेटी के साथ किया था बलात्कार। मुबारकपुर थाना के इब्राहिमपुर मे 24 नवंबर की रात हुये तिहरे हत्याकांड के आरोपी नजीरुद्दीन उर्फ पौआ को अदालत ने फांसी की सजा सुनाई। इस अनसुलझी घटना का राजफाश करना पुलिस के लिए एक चुनौती की तरह था। लेकिन मुबारकपुर एसएचओ अखिलेश मिश्रा ने इस चुनौती को स्वीकार करते हुये आरोपी के खिलाफ बेहतरीन पैरवी किया। जिसके वजह से आज अदालत ने आरोपी को फांसी की सजा सुनाई। आपको बताते चलें कि 24-25 नवंबर 2019 को रात्रि मे हुये तिहरे हत्याकांड जैसा संगीन अपराध थाना मुबारकपुर
अन्तर्गत ग्राम इब्राहिमपुर भरौलिया में घटित हुआ जिसमें तीन लोगो की मौके पर ही मृत्यु हो गयी जिसमें 4 माह का बच्चा भी सम्मलित था जब की दो बच्चे गम्भीर रूप से घायल हो गये थे। इस घटना का खुलासा के लिये पुलिस अधीक्षक आजमगढ़ द्वारा अपर पुलिस अधीक्षक (नगर) के निर्देशन में व क्षेत्राधिकारी सदर के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा उक्त सनसनी खेज हत्या का सफल अनावरण किया गया था।

मुबारकपुर एसएचओ अखिलेश मिश्रा ने विवेचना से एफआइआर मे नामित अभियुक्त इम्तियाज नट की नामजदगी गलत पायी गयी तथा अनावरण में घटना कारित करने वाला अभियुक्त नजीरूद्दीन उर्फ पउवा पुत्र अब्दुल अजीज अंसारी निवासी इब्राहिमपुर मुबारकपुर का नाम प्रकाश मे आया। अखिलेश मिश्रा ने विवेचना के क्रम मे भौतिक साक्ष्य एवम वैज्ञानिक साक्ष्य संकलित किये गये फ्रिगर प्रिन्ट मिलान एवम डीएनए कराया गया जिससे फारेन्सिक रिपोर्ट से डीएनए एवम फिंगर प्रिन्ट का मिलान हुआ घटना एक सप्ताह मे अनावरण करते एक सप्ताह के अन्दर आरोप पत्र माननीय न्यायालय प्रेषित करते हुए चार्ज बनवाकर 12 दिवस के अन्दर अभियोन पक्ष के सभी गवाहो के गवाही न्यायालय में कराई गई फ्रिंगर प्रिन्ट एवम डीएनए परीक्षण रिपोर्ट प्राप्त करने हेतु विधि विज्ञान प्रयोगशाला लखनऊ निरन्तर पैरवी करते हुए परीक्षण परिणाम मंगवाकर न्यायालय दाखिल कराया गया। मुबारकपुर एसएचओ अखिलेश मिश्रा के द्वारा सघन पैरवी कर उपरोक्त मुकदमे में की गयी। जिसके कारण आज आरोपी नजीरूद्दीन उर्फ पउवा पुत्र अब्दुल अजीज अंसारी निवासी इब्राहिमपुर मुबारकपुर को माननीय न्यायालय द्वारा दोष सिद्ध ठहराते हुए फासी की सजा से दण्डित किया गया है।

BREAKING NEWS
scroll to top