प्रदेश

राजीव मिश्रा और स्वाट टीम ने कार्बाइन, कारतूस,तमंचा,कारतूस के साथ 2 आरोपियो को किया गिरफ्तार

बलिया (नौशाद अन्सारी) बैरिया एसएचओ राजीव मिश्रा और स्वाट टीम ने कार्बाइन, कारतूस, तमंचा,कारतूस के साथ 2 आरोपियो को किया गिरफ्तार। पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में आगामी त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के मद्देनजर अवैध शस्त्रों की तस्करी में लिप्त अपराधियों के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान के क्रम मे बैरिया एसएचओ राजीव मिश्रा और स्वाट टीम प्रभारी संजय सरोज को मिली बड़ी सफलता मिला है। बैरिया एसएचओ राजीव मिश्रा और स्वाट टीम प्रभारी संजय सरोज की संयुक्त फोर्स ने मुखबिर की सूचना पर नौरंगा गांव में दबिश देकर 2 अभियुक्त अमरेन्द्र ठाकुर पुत्र सुरेन्द्र ठाकुर निवासी नौरंगा बैरिया,राजू शर्मा पुत्र केदार शर्मा निवासी नौरंगा बैरिया को गिरफ्तार किया। जिनके पास से स्वचलित कार्बाइन व तमंचा तथा भारी मात्रा में कारतसू व फर्जी शस्त्र लाइसेन्स बरामद हुआ है।

बरामदगी के आधार पर पकड़े गये दोनो आरोपियों के विरूद्ध बैरिया थाना मे आईपीसी की धारा 3/7/25/5 आर्म्स एक्ट व 419,420, 467, 468,471 मे मुकदमा दर्ज किया गया। आरोपी अमरेन्द्र द्वारा पूछताछ पर बताया गया कि वो अपने पिता, चाचा व साथियों के साथ मिलकर अवैध हथियार बिहार से लाकर बेचता है । घटना वाले दिन को अपने चाचा के साथ उक्त कार्बाइन को 2.5 लाख मे बेचने आया था। कार्बाइन को काफी समय से बचने का प्रयास कर रहा था इसी दौरान पुलिस ने उसे रंगे हाथो पकड़ लिया।अवैध शस्त्रो के कारोबार में फर्जी शस्त्र लाइसेन्स का इस्तेमाल करते है। इसके पूर्व मे हमने बिहार बक्सर, भोजपुर, रोहतास तथा उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद,गाजीपुर मे भी अवैध हथियार बेचा है। आरोपी राजू ने बताया कि वह लोहार है और शस्त्र निर्माण का कार्य इनके साथ मिलकर करता है व कभी कभार तमंचे बना लेता है। पिस्टल, कार्बाइन इत्यादि ये लोग बिहार से लाते हैं इस गैंग का मुख्य सरगना विनोद (अमरेन्द्र का चाचा) है।

बरामदगी
1. 01 अदद स्वचलित कार्बाइन
2. 30 अदद जिन्दा कारतूस 9mm
3. 01 अदद तमंचा .315 बोर
4. 50 अदद जिन्दा कारतसू .315 बोर
5. 02 अदद फर्जी शस्त्र लाइसेन्स
6. हथियार बनाने के उपकरण

प्रभावशाली बरामदगी व गिरफ्तारी के सम्बन्ध में पुलिस टीम के प्रोत्साहन हेतु अपर मुख्य सचिव गृह विभाग द्वारा 1 लाख का ईनाम घोषित किया गया है।आपको बताते चले कि इंसाफ पसन्द व सरल स्वाभाव के राजीव मिश्रा जितना आम जनमानस मे अपने सौम्य व्यवहार के कारण काफी चर्चित है तो वही अपराधियो मे कहर ढाने के कारण अपराधियो में खौफ का दूसरा नाम है। राजीव मिश्रा अपने कार्यकाल में अब तक दर्जनो एनकाउंटर कर चुके हैं तो वही जौनपुर मे तैनाती के दौरान उन्होने नकली नोट के सौदागरो को 2 लाख के नकली नोट के साथ पकड़ा था। राजीव मिश्रा कहते है दुर्दांत अपराधियों का अंत करना और पीड़ित को न्याय के लिए अपराधियों को न्यायालय तक पहुचाना ही वर्दी पहनने का मुख्य मकसद है।

Related Articles

Back to top button
BREAKING NEWS
बांसडीह एसएचओ राजीव मिश्रा ने विभिन्न मुकदमो मे बरामद जब्त भारी मात्रा मे अवैध शराब किया नष्ट अतिक्रमण हटाने के फरमान से फुटकर व्यवसाईयों में हड़कम्प संविधान पर बुलडोजर नही चलेगा-भाकपा माले दुद्धी पुलिस द्वारा की गयी सघन काम्बिंग कार्यकारी निदेशक सीएसआर ने बालिका सशक्तिकरण के बालिकाओं से रूबरू होकर बढ़ाया मनोबल प्रधान मंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट नमामीगंगे के साइट से करोड़ों की पाइप चोरी , हड़कम्प बजट में आदिवासियों के लिए कुछ नहीं- आइपीएफ घनश्याम हत्याकांड: दोषी मुंशी कोल को 8 वर्ष की कैद आपरेशन पताल लोक के तहत श्रीकांत राय ने गैंग ने आरोपी को तमंचा कारतूस के साथ गिरफ्तार कर भेजा जेल आपरेशन पताल लोक के तहत मिथिलेश मिश्रा ने गैंग लीडर के सदस्य को तमंचा कारतूस के साथ गिरफ्तार कर भेजा ...