सोनभद्र

म्योरपुर खेल मैदान में प्रेरणा ज्ञानोत्सव कार्यक्रम का आयोजन हुआ

म्योरपुर/सोनभद्र (विकास अग्रहरी 8318670533) ब्लाक म्योरपुर मे विभाग व शिक्षक,शिक्षिकाओ व बच्चों द्वारा प्रेरणा ज्ञानोत्सव का शुभारम्भ मुख्य अतिथि माननीय श्री आनंदजी संगठन मंत्री राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कारी डाँड़ व विशिष्ट अतिथि श्रीमान गोरखनाथ पटेल जी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सोनभद्र की उपस्थिति में श्री सुरेन्द्र प्रताप सहाय खण्ड शिक्षा अधिकारी म्योरपुर की अध्यक्षता व श्री अशोक सिंह जी अध्यक्ष उत्तरप्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ जनपद सोनभद्र के मार्गदर्शन में म्योरपुर खेल मैदान में किया गया।

कार्यक्रम की रूपरेखा म्योरपुर के ए आर पी गण श्री रजनीश श्रीवास्तव, श्री अखिलेश देव पाण्डेय, श्री विनोद कुमार पाण्डेय, श्री राममूर्ति जी के नेतृत्व में सृजित की गई। जिसमें विविध कार्यक्रमों के माध्यम से प्रेरणा ज्ञानोत्सव अभियान पर प्रकाश डाला गया। कार्यक्रम की शुरुवात मुख्य अतिथि महोदय के द्वारा दीप प्रज्वलन व कम्पोजिट स्कूल खैराही की बालिकाओं द्वारा सरस्वती वंदना से हुई।
तत्पश्चात स्वागत गीत, मयूर नृत्य, व योग नृत्य कम्पोजिट विद्यालय डोड़हर,राजस्थानी फोक नृत्य कालबेलिया कम्पोजिट विद्यालय कनोडिया , करमा नृत्य मून स्टार पब्लिक स्कूल, क्रांतिकारी बिरहा कम्पोजिट विद्यालय काचन के बच्चों ने अनेक सांस्कृतिक कार्यक्रम के माध्यम से समां बाँधा।
मुख्य अतिथि व विशिष्ट अतिथि महोदय के द्वारा स्कूलों व विभाग में सराहनीय कार्य करने वाले शिक्षकों व अवकाश प्राप्त करने वाले गुरुजनों/ कर्मचारियों को प्रशस्ति पत्र व अंग वस्त्रम देकर सम्मानित किया गया।

खण्ड शिक्षा अधिकारी म्योरपुर श्री एस पी सहाय जी ने ऑपरेशन कायाकल्प पर अपने विचार रखे।
ए आर पी गण द्वारा मिशन प्रेरणा,, दीक्षा एप, रीड अलोंग एप,मानव सम्पदा, शारदा एवम समर्थ कार्यक्रम की जानकारी दी गई। साथ ही साथ प्रेरक बालक/ बालिका प्रमाणपत्र वितरित किया गया।
न्याय पंचायत म्योरपुर की मेजबानी में टी एल एम प्रदर्शनी लगाई गई जो कार्यक्रम के आकर्षण का केंद्र रही। विदित हो कि प्रेरणा ज्ञानोत्सव अभियान के अंतर्गत समृद्घ हस्तपुस्तिका पर आधारित रिमिडियल शिक्षण करने के 100 दिन बाद समस्त बच्चों का अंतिम आंकलन होगा।

माननीय मुख्य अतिथि श्री आनंदजी ने बताया कि भारत एक भौगोलिक इकाई, राजनैतिक इकाई,व्यापारिक इकाई न होकर उस वीर भोग्या वसुंधरा के नेतृत्व का नाम है जहाँ इस वैश्विक महामारी के कठिन काल मे निराशा और हताशा से ऊपर उठकर पूरी दुनिया का सहयोग ,मार्गदर्शन,व नेतृत्व करने में आज सक्षम है आज भारत यदि बचा है तो अपनी परम्परा,अपनी संस्कृति, अपनी जीवन पद्धति व अनुशासन से बच सका है। इसके पीछे इस भारत भूमि के प्रबुध्द व विद्वत समाज जो सृजन, निर्माण, उन्नति, मार्गदर्शन,जीवन को श्रेष्ठ बनाने को उन्नत बनाने शिक्षको का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। आज का यह उत्सव सृष्टि के प्रारम्भ से गर्भ तक सनातन से लेकर आशावादी, भूत, भविष्य, वर्तमान से परे पुनर्जन्म में विश्वास रखने वाले कर्मनिष्ठ शिक्षकों की कर्मठता ही भारत को विश्वगुरु बनाने में सक्षम है।

माननीय अतिथिद्वय के अशीर्वचनोपरांत श्री अशोक सिंह जी के द्वारा धन्यवाद ज्ञापन कर कार्यक्रम का समापन हुआ।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे खंडशिक्षाधिकारी सुरेन्द्र प्रताप सहाय द्वारा सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापित किया गया।संचालन रजनीश श्रीवास्तव ने किया। इस अवसर पर उत्तरप्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ सोनभद्र की म्योरपुर इकाई से ब्रह्मदेव तिवारी संरक्षक, राकेश सिंह,विपिन शुक्ल जी, इक़रार हुसैन अध्यक्ष, बसन्त यादव वरिष्ठ उपाध्यक्ष, राघवेन्द्र पाण्डेय प्रवक्ता/ संगठनमंत्री, मनोज शुक्ल, सर्वेश त्रिपाठी डॉ0 ददन सिंह, अजय गुप्ता, मोहम्मद आमिर, सर्वेश गुप्ता, नारायण दास गुप्ता,रश्मि गुप्ता, अखिलेश मिश्र ,प्रधानाचार्य दयाशंकर विश्वकर्मा, अरुण अवस्थी, विनय त्रिपाठी, ज्ञानेन्द्र शुक्ल, तरुण शुक्ल, दिव्येन्दु,रेनू मौर्या, नीलम सिंह, उमेश, ममता, मुजीब, सीमा, शीतल दहलान अनिल पाल, बृजेश यादव, नन्दलाल यादव,मनीष, ध्रुव, समेत भारी संख्या में शिक्षक,शिक्षिकाये मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button
BREAKING NEWS
ओबरा घोरावल एसडीएम रहे जैनेंद्र सिंह का हुआ गैर जनपद तबादला जितेंद्र कुमार ने छात्रा के अपहरण के 3 आरोपी को गिरफ्तार कर अपहृता किया बरामद 42 गांव के 62 लाभार्थियों को विधायक व उपजिलाधिकारी ने वितरित की घरौनी बिजली की चपेट में आकर बालक हुआ अचेत, भर्ती पुलिस अधीक्षक के परिक्षेत्र अयोध्या स्थानान्तरण पर दी गयी भावभीनी विदाई शांतिभंग में पांच लोग चालान प्रदीप सिंह चंदेल ने एनसीएल अधिकारियो के साथ मीटिंग कर मानसून मे होने वाले ओबी स्लाइडिंग रोकने के लि... शक्तिनगर पुलिस ने चोरी के दो आरोपी को गिरफ्तार कर किया चालान यशवीर सिंह बने सोनभद्र के नये पुलिस अधीक्षक महारानी दुर्गावती का मनाया गया बलिदान दिवस