सोनभद्र

धनुष यज्ञ लीला में भगवान श्रीराम के धनुष उठाते ही जय श्रीराम के जयकारों से गुंजा पंडाल

दुद्धी, सोनभद्र। स्थानीय तहसील परिसर में चल रही रामलीला में वृहस्पतिवार की रात धनुष यज्ञ लीला में भगवान श्रीराम के धनुष उठाते ही जय श्रीराम के जयकारों से गूंज उठा। स्थानीय कलाकारों ने सीता स्वयंवर का मंचन किया। मिथला के राजा जनक ने सीता स्वयंवर में धनुष तोड़ने की शर्त रखी। स्वयंवर में पहुंचे कई राजा भगवान शिव का धनुष नहीं हिला पाए। भगवान श्रीराम ने जैसे ही सभा में में रखे धनुष उठाया और तोड़ दिया। श्रीराम व माता सीता का विवाह सम्पन्न हुआ। जनकपुरी में खुशियां मनाई गई। इस दौरान भगवान शिव के धनुष टूटने से क्रोधित होकर राजा जनक के दरबार में पहुंचे और लक्ष्मण-परशुराम संवाद का मंचन हुआ। लीला के दौरान भगवान राम ने बीच में आकर परशुराम के क्रोध को शांत करते हुए उन्हें भगवान विष्णु के अवतारी होने का परिचय दिया। इसके बाद परशुराम का क्रोध शांत हुआ और भगवान राम और सीता ने एक-दूसरे के गले में वरमाला डाली। इस मौके पर मौजूद दर्शकों ने पुष्पवर्षा की और आरती उतारी।

Md.shamim Ansari

मु शमीम अंसारी कृषि स्नातकोत्तर (प्रसार शिक्षा/जर्नलिज्म) इलाहाबाद विश्वविद्यालय (उ.प्र.)

Related Articles

Back to top button
BREAKING NEWS
म्योरपुर कस्बे का मूल्यांकन कर शासन को जल्द भेजी जाएगी रिपोर्ट- तहसीलदार बृजेश कुमार वर्मा भीम आर्मी के संस्थापक चन्द्रशेखर आजाद के जन्मदिन के अवसर पर भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष ने मरीजो को बांट... सम्पूर्ण समाधान दिवस में 25 में 5 मामलों का मौके पर निस्तारण दुद्धी को जिला बनाए जाने को लेकर अधिवक्ताओं ने किया प्रदर्शन कायाकल्प योजना की टीम ने सीएचसी दुद्धी का किया निरीक्षण स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए पुस्तकों का अध्ययन आवश्यक - एसएन सिंह पावर सेक्टर के निजीकरण पर लगे रोक -वर्कर्स फ्रंट अधिवक्ता दिवस के रूप में मना डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद का जन्मदिवस महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ में गीता जयंती की पूर्व संध्या पर संगोष्ठी का हुआ आयोजन करंट की जगह चपेट में आने से युवक की मौत
Download App