सोनभद्र

स्टाफ व संसाधनों की कमी का दंश झेल रहा दुद्धी सीएचसी- सुरेन्द्र अग्रहरि

दुद्धी, सोनभद्र। झारखण्ड, छत्तीसगढ़ व मध्यप्रदेश की सीमा पर स्थित दुद्धी तहसील मुख्यालय का सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र दुद्धी इन दिनों अभावों का दंश झेल रहा है जहाँ पर इन तीनो राज्यों के साथ साथ उत्तर प्रदेश के मरीज अपना इलाज कराने के लिए यहाँ आते हैं। 30 बेड़ो वाला यह सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नियमानुसार 50 बेड का होना चाहिये लेकिन अधिकारियों की निष्क्रियता ने इस केन्द्र को 30 पर ही रहने को मजबूर कर दिया है।।इस स्वास्थ्य केन्द्र पर देखा जाए तो ब्लड, ओपीडी व एन सी डी के लिए तीन एल टी की कमी है।ब्लड बैंक के लिए दो एल.ए. की आवश्यकता है। एक डेण्टल हाईजेनिस्ट की कमी है। 3 नर्सिंग स्टाफ की कमी से जूझता हुआ कराह रहा है। 3 वार्ड ब्यायो की कमी से मरीज इधर उधर भटकते रहते है। सफाई व्यवस्था तो चरमरा ही जाती हैं जब सफाई कर्मी इधर उधर हो गए तो, जबकि देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी स्वच्छता अभियान को लेकर बहुत बड़ी मुहिम छेडे हुए हैं ।3 स्थाई सफाईकर्मियों की आवश्यकता है क्योंकि 24 घण्टे साफ सफाई अवश्य होनी चाहिये। स्वास्थ्य केन्द्र पर कभी कभी ऐसी स्थिति हो जाती हैं कि मरीज , उनके अटेंडेन्ट और अन्य आने वाले लोगों को संभालना मुश्किल हो जाता हैं इसलिए दो गार्ड आवश्यक है। रिटायर्ड होने के कारण फार्मासिस्ट की कमी है, उनके स्थान पर किसी की नियुक्ति नहीं हो पाई है जिससे चिकित्सको को कठिनाइयों का सामना करना पड़ता हैं।इसलिए एक फार्मासिस्ट अति महत्वपूर्ण है। दो पीएचसी डॉक्टरों की भी अति आवश्यकता महसूस हो रही हैं।एक वार्ड आया यदि स्वास्थ्य केन्द्र पर रहे तो मरीजों को सुविधा उपलब्ध रहती।एक आई.ओ की भी कमी से जूझता हुआ स्वास्थ्य केन्द्र रामभरोसे चलने को मजबूर हैं।
प्रतिदिन फिनायल की आवश्यकता होती हैं जो सभी कमरो और वार्डो के लिए आवश्यक है उसकी कमी से जगह जगह दुर्गन्ध उठना लाजिमी है ।इसलिए कम से कम डेढ़ कुन्तल फिनायल प्रतिमाह मिलती रहे। लाइट न रहने पर जनरेटर चलाने के लिए तेल की आवश्यकता होती हैं जो मरीजों के लिए अति महत्वपूर्ण है, उसकी भी व्यवस्था हो तब जाकर इस स्वास्थ्य केन्द्र की दुर्व्यवस्था में सुधार हो। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता डीसीएफ चेयरमैन सुरेन्द्र अग्रहरि ने 4 दिन पहले स्वास्थ्य केन्द्र की सफाई दुर्व्यवस्था को देखकर भड़क गए थे ।उसके बाद उन्होंने इसके मूल में जाकर पता किए और लगातार तीन दिनों से निरीक्षण कर रहे हैं और उन कमियों को पता किए कि आखिर ऐसे कौन से कारण है जिससे इस स्वास्थ्य केन्द्र की व्यवस्था खराब हो जाती हैं ।भाजपा नेता अग्रहरि ने कहा कि
मुख्यचिकित्साधिकारी ध्यान दे दे तो बहुत कुछ सुधार होने की संभावना है अन्यथा स्वास्थ्य सम्बन्धी कमियों को लेकर उनका घेराव किया जाएगा।।

Md.shamim Ansari

मु शमीम अंसारी कृषि स्नातकोत्तर (प्रसार शिक्षा/जर्नलिज्म) इलाहाबाद विश्वविद्यालय (उ.प्र.)

Related Articles

Back to top button
BREAKING NEWS
म्योरपुर कस्बे का मूल्यांकन कर शासन को जल्द भेजी जाएगी रिपोर्ट- तहसीलदार बृजेश कुमार वर्मा भीम आर्मी के संस्थापक चन्द्रशेखर आजाद के जन्मदिन के अवसर पर भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष ने मरीजो को बांट... सम्पूर्ण समाधान दिवस में 25 में 5 मामलों का मौके पर निस्तारण दुद्धी को जिला बनाए जाने को लेकर अधिवक्ताओं ने किया प्रदर्शन कायाकल्प योजना की टीम ने सीएचसी दुद्धी का किया निरीक्षण स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए पुस्तकों का अध्ययन आवश्यक - एसएन सिंह पावर सेक्टर के निजीकरण पर लगे रोक -वर्कर्स फ्रंट अधिवक्ता दिवस के रूप में मना डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद का जन्मदिवस महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ में गीता जयंती की पूर्व संध्या पर संगोष्ठी का हुआ आयोजन करंट की जगह चपेट में आने से युवक की मौत
Download App