सोनभद्र

ओवरलोड राखड़ का खेल अंकुश लगाने में प्रशासन फेल

बीजपुर/सोनभद्र (विनोद गुप्त) एनटीपीसी रिहन्द परियोजना राखी बंधे से ओवरलोड राखड़ की ट्रकें बेख़ौफ़ दौड़ रही है। कई बार प्रबन्धन और पुलिस से शिकायत के बाद भी प्रशासन अंकुश लगाने में फेल सावित हो रहा है। इस बाबत दस दिन पूर्व हुई प्रेस वार्ता में उठाए गए सवाल के जबाब में रिहन्द परियोजना के तत्कालीन समूह महाप्रबन्धक देवब्रत पाल ने ट्रांसपोर्टर के खिलाफ बिभागीय करवाई के सख्त निर्देश दिए थे लेकिन निचले स्तर के अधिकारियों की मिली भगत से वह निर्देश रद्दी में चला गया। उधर स्थानीय पुलिस के नाक के नीचे से सैकड़ों की संख्या में प्रति दिन दौड़ रही राखड़ की ट्राला और ट्रकें पुलिसिया चश्मे में दिखाई ही नही देता इनको केवल दुपहिया वाहन के अलावा सड़क पर न बसें दिखती है और नहीं ओवरलोड ट्रकें। नतीज़तन ओवरलोड के कारण सड़क किनारे राखड़ का जगह जगह पहाड़ खड़ा होता जा रहा है और जहरीली राख से जंगल और फसल बर्बाद होने के कगार पर है। वहीं बीजपुर से बकरिहवाँ तक सड़क चलने लायक नही बचीं है जगह जगह गढ्ढे में गिर कर दुपहिया चालक चोटिल हो रहे है तो रफ्तार से चल रही राखड़ की ट्रकों से दुर्घटना ग्रस्त हो कर अभी तक दो दर्जन से अधिक लोग अपनी जान गवाँ बैठे है। बावजूद प्रशासन कान में तेल डाल कर बड़ी घटना का इंतजार कर रहा है। क्षेत्र के सम्भ्रांत जन और ग्राम प्रधानों ने जिला प्रशासन से तत्काल हतक्षेप कर रफ्तार और ओवरलोड पर अंकुश की माँग किया है।

Related Articles

Back to top button
BREAKING NEWS
Download App