सोनभद्र

बजट में आदिवासियों के लिए कुछ नहीं- आइपीएफ

म्योरपुर/सोनभद्र(विकास अग्रहरि)
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आज विधानसभा में प्रस्तुत बजट में आदिवासियों और मजदूरों के लिए कुछ नहीं है। बजट में आदिवासी बाहुल्य दुद्धी तहसील में आदिवासी लडकियों के लिए आवासीय महाविद्यालय खोलने और हर ब्लाक में एकलव्य विद्यालय खोलने की लोकप्रिय मांग को पूरा नहीं किया गया। मेडिकल सुविधाओं के विकास पर बड़ी-बड़ी बातें की गई लेकिन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर विशेषज्ञ डाक्टरों विशेषकर महिला और प्रसूति रोग विशेषज्ञ डाक्टरों के खाली पड़े पदों को भरने की कोई योजना बजट में नहीं है। इसी प्रकार तमाम सरकारी विद्यालयों में शिक्षकों पद रिक्त पड़े हुए है जिन पर भर्ती करने की कोई बात बजट में नहीं है। बजट के पूर्व पत्र भेजकर उठाई गई मांग कि प्रदेश में मजदूरों की न्यूनतम मजदूरी केन्द्र के बराबर की जाएं, मनरेगा की मजदूरी 350 रूपये की जाए और तेदूं पत्ता मजदूरों की मजदूरी छत्तीसगढ़ के बराबर 4000 रूपये प्रति मानक बोरा की जाए, को भी अनसुना कर दिया गया है। बजट में मुख्यमंत्री आर. ओ. पेयजल योजना में सोनभद्र जनपद को शामिल नहीं किया गया जबकि सरकारी जांच में जनपद के सैकड़ों विद्यालयों में आर्सेनिक, मरकरी और आयरन युक्त प्रदूषित पेयजल पाया गया था। यह प्रतिक्रिया आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट (आइपीएफ) के जिला संयोजक कृपा शंकर पनिका ने दी।

Vikash Agrahari

विकास अग्रहरी सोनभद्र म्योरपुर निवासी है। कम समय मे विकास अग्रहरी आज जिले की पत्रकारिता मे एक जाना पहचाना नाम है।

Related Articles

Back to top button
BREAKING NEWS
म्योरपुर ब्लॉक के आश्रम मोड मुर्धवा के बीच की सड़क होगी चौड़ी आश्रम मोड़ से आरवाई सिंह घाटी और जमतिहवा नाला तक सड़क चौड़ीकरण होगा। बिना मान्यता के स्कूल चलाने वालों की अब खैर नही-खण्ड शिक्षा अधिकारी इन्हरव्हिल क्लब दुद्धी द्वारा बच्चों को किया गया बैग वितरण रन्नू गांव में सड़क लेबल से नीचे बना बिना ढक्कन का नाली, हादसे का डर आकांक्षी जनपद के बावजूद शिक्षा-स्वास्थ्य सुविधाएं लचर पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष के निधन से शोक की लहर उदयपुर घटना और जुमा की नमाज को लेकर प्रदीप सिंह चंदेल ने अनपरा मे फुट मार्च कर आपसी सौहार्द बनाये रख... दुष्कर्म के दोषी संदीप को उम्रकैद की सजा बजरग दल ने आतंकवाद का पुतला फूंका