सोनभद्र

घनश्याम हत्याकांड: दोषी मुंशी कोल को 8 वर्ष की कैद

सोनभद्र (ओम प्रकाश गुप्ता) 8 वर्ष पूर्व कुल्हाड़ी से प्रहार कर हुए घनश्याम हत्याकांड के मामले मेंअपर सत्र न्यायाधीश द्वितीय राहुल मिश्रा की अदालत ने वृहस्पतिवार को सुनवाई करते हुए दोषसिद्ध पाकर दोषी मुंशी कोल को 8 वर्ष की कैद एवं एक हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई। वहीं अर्थदंड न देने पर तीन माह की अतिरिक्त कैद भुगतनी होगी।
अभियोजन पक्ष के मुताबिक चोपन थाना क्षेत्र के अलऊर टोला बैरिक टांडी की विमल देवी पत्नी स्वर्गीय घनश्याम कोल ने 26 जून 2014 को चोपन थाने में दी तहरीर में आरोप लगाया था कि उसके ससुर मुंशी कोल व उसके पति घनश्याम के बीच हल बैल को लेकर सुबह 9 बजे कहासुनी होने लगी। इसीबीच ससुर मुंशी कोल ने उसके पति घनश्याम के ऊपर कुल्हाड़ी से प्रहार कर दिया। लोगों को आते देखकर मुंशी कोल कुल्हाड़ी लेकर जंगल की ओर भाग गया। उधर गंभीर चोट लगने की वजह से पति घनश्याम की इलाज के दौरान मौत हो गई। इस तहरीर पर अलऊर टोला बैरिक टांडी निवासी मुंशी कोल के विरुद्ध एफआईआर दर्ज किया गया था। पुलिस विवेचना के दौरान पर्याप्त सबूत पाए जाने पर विवेचक ने न्यायालय में चार्जशीट दाखिल किया था। मामले की सुनवाई के दौरान अदालत ने दोनों पक्षों के अधिवक्ताओं के तर्कों को सुनने, गवाहों के बयान एवं पत्रावली का अवलोकन करने पर दोषसिद्ध पाकर दोषी मुंशी कोल को 8 वर्ष की कैद एवं एक हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई। अर्थदंड न देने पर तीन माह की अतिरिक्त कैद भुगतनी होगी। अभियोजन पक्ष की ओर से अभियोजन अधिकारी विजय यादव ने बहस की।

Related Articles

Back to top button
BREAKING NEWS
म्योरपुर ब्लॉक के आश्रम मोड मुर्धवा के बीच की सड़क होगी चौड़ी आश्रम मोड़ से आरवाई सिंह घाटी और जमतिहवा नाला तक सड़क चौड़ीकरण होगा। बिना मान्यता के स्कूल चलाने वालों की अब खैर नही-खण्ड शिक्षा अधिकारी इन्हरव्हिल क्लब दुद्धी द्वारा बच्चों को किया गया बैग वितरण रन्नू गांव में सड़क लेबल से नीचे बना बिना ढक्कन का नाली, हादसे का डर आकांक्षी जनपद के बावजूद शिक्षा-स्वास्थ्य सुविधाएं लचर पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष के निधन से शोक की लहर उदयपुर घटना और जुमा की नमाज को लेकर प्रदीप सिंह चंदेल ने अनपरा मे फुट मार्च कर आपसी सौहार्द बनाये रख... दुष्कर्म के दोषी संदीप को उम्रकैद की सजा बजरग दल ने आतंकवाद का पुतला फूंका